बैंकिंग एवं वित्तीय सचेतना – भाग 72

Site Administrator

Editorial Team

02 Nov, 2014

7710 Times Read.

बैंकिंग जागरूकता,


RSS Feeds RSS Feed for this Article



Read this in English

KYC

1) भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) ने 21 अक्टूबर 2014 को बैंकों को दिए निर्देश में तमाम बार हिदायत दिए जाने के बाद भी KYC नियमों का अनुपालन न करने वाले खातेदारों के खिलाफ क्या कदम उठाने को कहा? – उनके खातों को चरणबद्ध तरीके से फ्रीज़ किया जाय

विस्तार: RBI ने बैंकों को दिए निर्देश में कहा कि उनके खातों को फ्रीज़ करने की यह कार्रवाई उन्हें हिदायत देने के तीन माह बाद शुरू की जाय तथा इसके बाद पुन: तीन माह का नोटिस उन्हें दिया जाय। लेकिन यदि इस प्रकार 6 माह तक हिदायत देने के बाद भी खातेदार खातों का समुचित KYC अनुपालन नहीं कराते हैं तो इन खातों की क्रेडिट व डेबिट सेवा को बंद कर दिया जाय। हालांकि खातेदार किसी भी समय इन खातों का KYC अनुपालन कर खातों को सक्रिय कर सकते हैं।

………………………………………………………………………………

2) केन्द्र सरकार ने 27 अक्टूबर 2014 को 6 सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (PSU Banks) के प्रमुखों को उनके पद से हटा दिया। यह निर्णय इस मुद्दे पर गठित एक समिति की रिपोर्ट आने के बाद लिया गया जिसमें कहा गया था कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के अध्यक्ष सह प्रबन्ध निदेशकों (CMDs) की चयन प्रक्रिया में तमाम अनियमितताएं बरती गईं थीं। वे कौन से 6 सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक हैं जिनके प्रमुखों को सरकार के इस निर्णय के तहत हटाया गया? – बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda), केनरा बैंक (Canara Bank), इण्डियन ओवरसीज़ बैंक (Indian Overseas Bank), ओरियण्टल बैंक ऑफ कॉमर्स (Oriental Bank of Commerce), यूनाइटेड बैंक (United Bank) और विजया बैंक (Vijaya Bank)

विस्तार: उल्लेखनीय है कि सितम्बर 2014 में सिण्डिकेट बैंक (Syndicate Bank) के अध्यक्ष व प्रबन्ध निदेशक (CMD) एस.के. जैन को भ्रष्टाचार में लिप्त होने के आरोप में उनके पद से बर्खास्त किए जाने के बाद केन्द्र सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के प्रमुखों को चयनित करने की प्रक्रिया की जाँच करने के एक समिति का गठन किया था। इस समिति में व्यय सचिव, RBI गवर्नर तथा सचिव, स्कूल शिक्षा को शामिल किया गया था। इस समिति ने अपनी जाँच में पाया कि बैंकों के प्रमुखों की चयन प्रक्रिया में कमियाँ विद्यमान थीं। इसके बाद सरकार ने 6 बैंकों के प्रमुखों को हटा दिया। इसके साथ ही 8 बैंकों के प्रमुखों (CMDs) तथा 14 कार्यकारी निदेशकों (Executive Directors) के पदों को भरने के लिए केन्द्र सरकार ने एक नई चयन प्रक्रिया को शुरू कर दिया है तथा इस प्रक्रिया में RBI गवर्नर रघुराम राजन को भी नामित किया गया है।

………………………………………………………………………………

3) चीन से समर्थन से स्थापित किए जाने वाले उस बैंक का क्या नाम होगा जिसके सम्बन्ध में 24 अक्टूबर 2014 को आशय-पत्र (MOU) पर हस्ताक्षर कर बैंक का नाम जारी किया गया तथा जिसके माध्यम से एशिया की मूलभूत संरचना तथा विकासशील बैंकों को मदद देने की कोशिश की जायेगी? – एशियन इन्फ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेण्ट बैंक (Asian Infrastructure Investment Bank – AIIB)

विस्तार: एशियन इन्फ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेण्ट बैंक (AIIB) को लाँच करने तथा इसके आशय पत्र पर हस्ताक्षर करने के लिए बीजिंग में 24 अक्टूबर को एक कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें चीन के वित्त मंत्री लोऊ जीवेई तथा भारत, थाइलैण्ड और मलेशिया समेत 21 देशों के प्रतिनिधि शामिल हुए। हालांकि इस बैंक की स्थापना में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले तीन देशों – ऑस्ट्रेलिया, इण्डोनेशिया और दक्षिण कोरिया के प्रतिनिधि इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हुए। चीन इस बैंक में 50% हिस्सेदारी के साथ सबसे बड़ा भागीदार होगा। इस बैंक का संचालन वर्ष 2015 से शुरू होने की संभावना है। लेकिन इस बैंक को विश्व बैंक (WB) और एशियाई विकास बैंक (ADB) जैसी पश्चिमी-समर्थक वित्तीय संस्थाओं के लिए एक बड़ी चुनौती माना जा रहा है। इस बैंक का मुख्य उद्देश्य भी विकासशील देशों को आर्थिक विकास के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना होगा।

………………………………………………………………………………

4) यूरोप के केन्द्रीय बैंक यूरोपियन सेण्ट्रल बैंक (European Central Bank – ECB) ने यूरो जोन (Euro Zone) के बैंकिंग प्रतिष्ठानों की सही स्थिति का जायजा लेने के लिए हाल ही में एक ऐतिहासिक परीक्षण किया था। इस परीक्षण के निष्कर्ष के आधार पर यूरो जोन के किस देश के बैंकों की स्थिति सर्वाधिक चिंताजनक पाई गई है? – इटली

विस्तार: इस परीक्षण में इटली के बैंकों के सम्बन्ध में यह तथ्य सामने आया कि यहाँ के सर्वाधिक नौ बैंक इस परीक्षण में निम्न-स्तरीय पाए गए जबकि दो अन्य बैंकों को अपनी आवश्यकता को पूरा करने के लिए पैसा हासिल करना शेष है। इटली के एक बैंक मोण्टे डेई पाश्ची (Monte dei Paschi) को अपनी पूँजी सम्बन्धी कमी को पूरा करने के लिए 2.1 अरब यूरो की आवश्यकता है। इस जाँच में यह तथ्य भी सामने आया कि यूरो जोन में बैंकों की सर्वाधिक चिंताजनक स्थिति इटली, साइप्रस और ग्रीस में है। हालांकि ECB ने यह भी स्पष्ट किया अब क्षेत्र में बैंकों की स्थिति उतनी खराब नहीं है जितनी पहले किसी समय हुआ करती थी। उल्लेखनीय है कि ECB ने बैंकों का वित्तीय परीक्षण इस कारण किया है क्योंकि नवम्बर 2014 से वह इन बैंकों की निगरानी का काम देखेगा। इससे यूरो जोन में बैंकों की वास्तविक स्थिति का सही अंदाजा मिला है।

………………………………………………………………………………

5) केन्द्रीय वित्त मंत्रालय ने वर्ष 2014-15 के चालू वित्त वर्ष के दौरान कम राजस्व एकत्र किए जाने के चलते कुछ किफायत करने के कदमों की घोषणा 30 अक्टूबर 2014 को की। इसमें मुख्यत: गैर-नियोजित खर्चों (non-plan expenditure) को कम करने तथा नए पदों के गठन पर रोक लगाने की घोषणा की गई। की गई घोषणा के अनुसार गैर-नियोजित खर्चों में कितनी कमी लाने की सरकार की मंशा है? – 10%

विस्तार: वित्त मंत्रालय के व्यय विभाग (Expenditure Department) द्वारा सभी केन्द्रीय मंत्रालयों और विभागों को भेजी गई सूचना के अनुसार प्रत्येक मंत्रालय/विभाग को गैर-नियोजित खर्चों में 10% तक की कमी लाने के लिए कदम उठाने होंगे। हालांकि इसमें ब्याज अदायगी, ऋण वापसी, रक्षा खर्च, वेतन, पेंशन तथा वित्त आयोग द्वारा राज्यों को प्रदान की जाने वाली सहायता को शामिल न करते हुए अलग रखा गया है। अधिकारियों को हिदायत दी गई है कि वे प्रथम क्लास से यात्रा करने से बचे तथा अपने कार्यक्रमों का आयोजन महंगे पांच सितारा होटेल्स में न करें। उल्लेखनीय है कि खर्च को कम करने के इन उपायों की घोषणा तब की गई है जब चालू वित्त वर्ष में अप्रत्यक्ष कर प्राप्ति (indirect tax collection) में वृद्धि के 25.8% के बजटीय अनुमान की तुलना में वित्त वर्ष के आधे भाग में इसमें मात्र 5.8% की वृद्धि दर्ज हुई है।

………………………………………………………………………………

6) 29 अक्टूबर 2014 को जारी किए गए नीलसन के वर्ष 2014 की तीसरी तिमाही के वैश्विक उपभोक्ता आत्मविश्वास सूचकांक (Nielsen Global Consumer Confidence Index) में किस देश के उपभोक्ता बाजार को सर्वाधिक आत्मविश्वास वाला (most bullish consumer market in the world) बताते हुए पहले स्थान पर रखा गया है? – भारत

विस्तार: भारत को इस सूचकांक में 126 अंकों के साथ पहला स्थान दिया गया है हालांकि पिछली तिमाही की तुलना में इसमें दो अंकों की कमी आई है। यह सूचकांक 13 अगस्त से 5 सितम्बर 2014 के दौरान 60 प्रमुख बाजारों से तीस हजार से अधिक उपभोक्ताओं से एकत्र आंकड़ों के आधार पर नीलसन (Nielsen) नामक एजेंसी ने तैयार किया है। वहीं तीसरी तिमाही के दौरान वैश्विक उपभोक्ता आत्मविश्वास सूचकांक (Global Consumer Confidence Index) एक अंक बढ़कर 98 हो गया। इस अवधि के दौरान ऑस्ट्रेलिया ने सर्वाधिक 12 अंकों की वृद्धि हासिल की तथा उसके बाद क्रमश: स्लोवेनिया (9 अंक) और थाईलैण्ड (8 अंक) सर्वाधिक वृद्धि हासिल करने में सफल हुए। इस सूचकांक में भारत के बाद क्रमश: इण्डोनेशिया (125 अंक), फिलीपीन्स (115 अंक), थाईलैण्ड (113 अंक), संयुक्त अरब अमीरात (112 अंक) और चीन (111 अंक) का स्थान रहा।

………………………………………………………………………………

7) किस बैंक को वर्ष 2013-14 के IDRBT बैंकिंग टैक्नॉलॉजी एक्सीलेंस पुरस्कार की मझोले बैंकों की श्रेणी में कुल पाँच में से चार पुरस्कार हाल ही में प्रदान किये गये हैं? – फेडरल बैंक (Federal Bank)

विस्तार: केरल में मुख्यालय वाले फेडरल बैंक को चार वर्गों – सोशल मीडिया व मोबाइल बैंकिंग, व्यावसायिक इंटेलीजेंस, सर्वश्रेष्ठ IT टीम तथा वित्तीय समावेशन के लिए तकनीक का सर्वश्रेष्ठ इस्तेमाल करने वाले सर्वोत्तम बैंक का पुरस्कार प्रदान किया गया। इस प्रकार यह बैंक सर्वाधिक मझोले बैंकों की श्रेणी में सर्वाधिक पुरस्कार जीतने वाला बैंक बन गया। यह पुरस्कार 1 अक्टूबर 2014 को हैदराबाद में आयोजित एक कार्यक्रम में RBI गवर्नर रघुराम राजन ने प्रदान किए। उल्लेखनीय है कि IDRBT बैंकिंग टैक्नॉलॉजी एक्सीलेंस पुरस्कार की स्थापना वर्ष 2001 में की गई थी तथा इसके तहत मुख्यत: बैंकिंग सेवा में आईटी के सर्वश्रेष्ठ प्रयोग के लिए अलग-अलग श्रेणी के बैंकों को इसे प्रदान किया जाता है।

………………………………………………………………………………

8) आदित्य बिरला फाइनेंशियल सर्विसेज (Aditya Birla Financial Services Group) ग्रुप ने हाल ही में किस विदेशी उपक्रम के साथ मिलकर भारत में स्वास्थ्य बीमा (health insurance) सेवाएं शुरू करने का निर्णय लिया है? – दक्षिण अफ्रीका की MMI होल्डिंस लिमिटेड

विस्तार: उल्लेखनीय है कि आदित्य बिरला फाइनेंशियल सर्विसेज ग्रुप वर्तमान में जीवन बीमा के क्षेत्र में अपनी बिरला सन लाइफ इंश्योरेंस (Biral Sun Life Insurance) नामक कम्पनी के साथ सक्रिय है। यह कम्पनी कनाडा की सन लाइफ फाइनेंशियल के साथ आदित्य बिरला समूह का संयुक्त उपक्रम है। MMI के साथ प्रस्तावित स्वास्थ्य बीमा उपक्रम में MMI के पास 26% हिस्सेदारी होगी जबकि शेष हिस्सेदारी आदित्य बिरला फाइनेंशियल सर्विसेज ग्रुप के पास रहेगी।

………………………………………………………………………………

9) चीन की दिग्गज ई-कॉमर्स कम्पनी अलीबाबा (Alibaba) ने अलीपे (Alipay) फाइनेंशियल सर्विसेज के नाम से संचालित अपनी वित्तीय सेवा कम्पनी का नाम बदलने की घोषणा 16 अक्टूबर 2014 को की। इसका नया रखा गया नाम क्या है? – एण्ट फाइनेंशियल सर्विसेज (Ant Financial Services Group)

विस्तार: उल्लेखनीय है कि अलीबाबा विश्व की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कम्पनी है तथा अलीपे फाइनेंशियल सर्विसेज के माध्यम से ही ये अपने सौदों को क्रियान्वित कर रही थी जोकि चीन के लगभग आधे ई-कॉमर्स सौदों के बराबर है। अब कम्पनी इस सेवा को नए स्वरूप में पेश करने में लगी है तथा चीनी सरकार द्वारा इसे बैंक संचालित करने का लाइसेंस प्रदान किए जाने के बाद इसके काम का विस्तारीकरण भी चल रहा है।

………………………………………………………………………………

10) हाल ही में किसे केन्द्रीय एक्साइज़ एवं कस्टम बोर्ड (CBEC) के नए अध्यक्ष के रूप में चुना गया है? – कौशल श्रीवास्तव

विस्तार: कौशल श्रीवास्तव 1978-बैच के भारतीय राजस्व सेवा (IRS) के अधिकारी हैं तथा वे 31 अक्टूबर 2014 को सेवानिवृत्त हो रहे जे.एम. शांति सुंदरम का स्थान लेंगे। उल्लेखनीय है कि CBEC भारत में अप्रत्यक्ष करों (Indirect Taxes) के नीति-निर्धारण की सर्वोच्च संस्था है।

………………………………………………………………………………


Responses on This Article

© NIRDESHAK. ALL RIGHTS RESERVED.